श्री श्रीयादे माता जयन्ती पर निकलेगी भव्य शोभायात्रा

— दो दिवसीय भव्य समारोह का 10 फरवरी एवं समापन 11 फरवरी को होगा।

जोधपुर। कुम्हार (प्रजापति) समाज की आराध्य देवी भक्त शिरोमणि श्री श्रीयादे माता जयन्ती महोत्सब समिति जोधपुर के तत्वावधान में आयोजित दो दिवसीय भव्य समारोह का आगाज शनिवार 10 फरवरी एवं समापन रविवार 11 फरवरी को होगा।
महोत्सव समिति के अध्यक्ष लूणाराम घोडेला ने संवाददाता सम्मेलन में श्री श्रीयावे माता जयन्ती महोत्सव के दो दिवसीय विशालतम समारोह की सम्पूर्ण जानकारी देते हुए बताया कि महोत्सव समिति द्वारा दो दिवसीय विशाल समारोह के अन्तर्गत जोधपुर को 41 प्रखण्डों में बिभाजित किया गया है तथा सभी क्षेत्रों में बैठकें आयोजित की गई है।

इस समारोह में प्रथम दिन माघ सुदी एकम् शनिवार 10 फरवरी 2024 को सायं 5.00 श्री श्रीयादे माता मन्दिर रातानाडा पर विराट भजन संध्या आयोजित होगी। इस भजन संध्या में कालुराम प्रजापति ‘कमल’ व पन्नालाल टटवाडिया, चेतन ‘भासा’ ऐणिया के नेतृत्व में समाज के जाने माने भजन गायक अपने भजनों से भक्ति रस की सरिता बाऐंगे तथा भजन संध्या का आनन्द लेने के लिए शहर के कौने-कौने से हजारों की संख्या में श्रोतागण आयेंगे। दूसरे दिन माघ सुदी बीज रविवार 11 फरवरी को प्रातः 10.30 बजे श्री श्रीयादे माता मन्दिर रातानाडा पर अतिथियों व समाज के प्रबुद्धजनों द्वारा शोभायात्रा का विधिवत् शुभारम्भ होगा।

महासचिव सुरेश कुमार मनोरिया ने बताया कि शोभायात्रा रातानाडा से प्रारम्भ होकर नई सड़क, घण्टाघर, कन्दोई बाजार, कटला बाजार, सिटी पुलिस, सर्राफा बाजार, आडा बाजार, कुम्हारियां कुआं, जालोरी गेट, गोलबिल्डिंग, सरदापुरा रोड होते हुए ग हुए गांधी मैदान न पहुंचकर विर्सजित होगी। सचिव राजेश मंगल ने कहा कि इ इस भव्य शोभायात्रा में 51 सामाजिक, धार्मिक, देशभक्ति से ओत प्रोत जिसमें फाइटर विमान, भारतीय कमाण्डो तोप सहित एवं शैक्षणिक आकर्षक झांकियों के साथ भजन मण्डलियां, पंजाब का अनोखा भांगड़ा डांस, जोधपुर की प्रसिद्ध वैण्डों द्वारा मधुर स्वर लहरिया सोजतसिटी की सुप्रसिद्ध कच्छी घोड़ी नृत्य आकर्षण का केन्द्र होंगे।

समिति के संयोजक रामनिवास मंगरोला ने बताया कि समारोह के मुख्य अतिथि समाजसेवी अमराराम घोडावड (कुमावत) तथा विशिष्ट अतिथि ठेकेदार रामसिंवर सारडीवाल (आसण्डा वाले), राजस्थान सरकार के केबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत एवं समाज के पार्षद रामस्वरुप गुडिया, अनिल गुंगावण, सुगनदेवी बागरेचा, मूमल बनावड़िया, पुखराज बनावड़िया, मंजू देवी चान्दोरा तथा गजेन्द्रसिंह शेखावत केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री, अतुल भंसाली शहर विधायक, देवेन्द्र जोशी सूरसागर विधायक, कुन्ती देवड़ा (महापौर नगर निगम उत्तर) एवं बनीता सेठ (महापौर नगर निगम दक्षिण), शान्तिलाल लिम्बा अध्यक्ष पूर्व माटी कला बोर्ड राजस्थान, शशिप्रकाश प्रजापत प्रदेशमन्त्री ओवीसी मोर्चा भाजपा सहित कई राजनेता उपस्थित रहेंगे।

महोत्सव समिति के मुख्य संरक्षक दशरथकुमार कवाडिया व रामकिशोर सोतवाल ने बताया कि इस बार सभी प्रखण्ड प्रमुखों को साफा पहनाकर कार्यभार सौंपा जायेगा। कोषाध्यक्ष मुनाराम मोरवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि श्री श्रीयादे शक्तिपीठ की बहुआयामी प्रस्तावित योजना को अतिशीघ्र अंजाम दिया जायेगा। जिससे समाज के लोग लाभान्वित हो सकेंगे। वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री सूरजप्रकाश भोभरिया व श्रीराम लिम्बा ने बताया कि समिति ने इस बार महिलाओं को समुचित प्रतिनिधित्व देने के लिए महिला प्रकोष्ठ का गठन किया गया जिसमें महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मीदेवी सिनाबडिया एवं उपाध्यक्ष श्रीमती संगीता सोतवाल को सर्वसम्मति से मनोनित किया गया है।
संरक्षक केशव कवाहिया च विनोद ऐणिया ने बताया कि इस विशालतम शोभायात्रा में झाकियों के साथ ही अंट, पोई, रथ के अलावा व्यायामशाला के कार्यकर्ताओं द्वारा हैरतअंगेज व्यायाम प्रदर्शन किये जायेंगे साथ ही इस भव्य शोभायात्रा में नौपत शहनाई व विभिन्न बैण्डों द्वारा मधुर ध्वनि से स्वर लहरियां बिखेरेंगे। इस शोभायात्रा में कुम्हार समाज के स्त्री पुरुष च बच्चों में जबरदस्त उत्साह रहेगा। इस वर्ष इस विशाल शोभायात्रा में हजारों की संख्या में कुम्हार समाज बन्धु भाग लेंगे।
इस दो दिवसीय विशाल समारोह की तैयारियां अन्तिम चरण पर पहुंच गई है। इस सफलतम आयोजन के संरक्षक मण्डल के दशरथ कवाडिया, भंवरलाल पोटर, रामकिशोर सोतवाल, कालुराम कारवाल, किशोर सिनावड़िया, हुकमाराम सिंघाटिया, सुधीर डुगट, केशव कवाडिया, विनोद ऐणिया, अध्यक्ष लूणाराम घोडेला, महासचिव सुरेश कुमार मनोरिया, सचिव राजेश मंगल, कोषाध्यक्ष मुनाराम मोरवाल, संयोजक रामनिवास मंगरोला, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूरजप्रकाश भोभरिया, लालचन्द संखवाया, भंवरलाल ओडिया, हंसराज बनावड़िया, गणपत सिनावड़िया, महेन्द्र घोडेला, महादेव घोडेला, सन्तोष भोभरिया, जोधाराम भोभरिया, नवरतेन जलवाणियां, धर्माराम सिनावड़िया, भगवानराम लाडणवा, गंगाराम ढिलवाडी, गोपाल ब्रान्धणा, जुगल मण्डावरा, मांगीलाल भोभरिया, माणकलाल कवाडिया, जितेन्द्र दिलवाडी, मिश्रीलाल कारवाल, लूणचन्द सिनावडिया, गोरुलाल मण्डावरा, पुनाराम लाडणवा, भंवरलाल घोडेला, रुपाराम छापर्वाल, रामनारायण गेदर, कैलाश मण्डावरा, जयकिशन जलवाणियां, पवनकुमार घोडेला, राकेश बागरेचा, श्रवण जलवाणियां, अणदाराम भोभरिया, मोहनलाल सुबटा, भागीरथ टटवाडिया, चन्द्रशेखर सिनावडिया, पुखराज ढिलवाडी, धर्मेन्द्र गुडिया, तरुण सोतवाल, अशोक झालामण्ड, कृष्णगोपाल जाजपरा, ओमप्रकाश घोडेला, कुलवन्त खन्ना, राजेश घोडेला, भरतकुमार तेनगरिया, रामस्वरुप सिरस्वा, ईशाराम भोभरिया, रामपाल सारडीवाल, रामनिवास भोभरिया, दुर्गाराम मनधनिया, राजाराम गेदर, तरुण कारवाल, जुगलकिशोर मण्डावरा, पाचाराम नेहरा, राजेन्द्र ओसतवाल आदि के अलावा सैकड़ों कार्यकर्ता दिन रात एक करते हुए इस शोभायात्रा को अन्तिम रुप दे रहे है। इस अवसर पर अन्य अतिथियों में धीरेन्द्र लुणिया, भंवरलाल सियोटा तहसीलदार गोकुलराम कवाडिया, नवीन मालवीय, रामाकिशन बागरी, केराराम बागरी, दौलतराम बागरी, बद्रीनारायण सिनावड़िया, बालकिशन (बी. के.) घोडेला, हेमन्त कारवाल, लक्ष्मण अजमेरिया रहेंगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button