श्रीराम जानकी सर्वजातीय सामूहिक विवाह समारोह में 22 जोड़े परिणय सूत्र में बंधेंगे

सेवा भारती समिति जोधपुर की ओर से होगा आयोजन,सामाजिक समरसता का दिखेगा संगम

Gulam Mohammed, Editor, Seva Bharati

जोधपुर। सेवा भारती समिति जोधपुर की ओर श्रीराम जानकी सर्वजातीय सामूहिक विवाह समारोह 2024 का आयोजन विक्रम संवत् 2081 बुद्ध पूर्णिमा दिनांक 23 मई 2024 को आदर्श विद्या मंदिर केशव परिसर, कमला नेहरू नगर में होगा। सेवा भारती समिति के संगठन मंत्री स्वरूपदान व महानगर के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने मंगलवार को आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि हिन्दू संस्कृति के 16 संस्कारों में विवाह (पणिग्रहण) संस्कार एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। लेकिन वर्तमान में विवाह समारोह में आर्थिक प्रदर्शन एवं दहेज प्रथा की समस्याओं के कारण विवाह संस्कार जटिल हो गया है जिसके चलते सामान्य व्यक्ति वैवाहिक आयोजन में कठिनाई अनुभव करने लगा है, इसलिए सेवा भारती सर्व सामान्य वर्ग को आडम्बरपूर्ण आर्थिक आयोजन एवं लेन-देन (दहेज) से मुक्ति दिलाकर समस्त समाज को स्वाभिमान के साथ अपने पुत्र-पुत्रियों के विवाह का आयोजन एक साथ एक मंच पर करने का अवसर प्रदान करता है। सेवा भारती द्वारा सामाजिक समरसता हेतु सर्वजातीय सामूहिक विवाह का आयोजन इस बार बुद्धपूर्णिमा को किया जा रहा है। विवाह समारोह में 22 जोड़े परिणय सूत्र में बंधेंगे। विवाह समारोह में मुख्य वक्ता राष्ट्रीय सेवा भारती अध्यक्ष पन्नालाल भंसाली व आतिथ्य राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के माननीय प्रांत संघ चालक हरदयाल वर्मा रहेंगे। समिति के महामंत्री राजेंद्र पालीवाल ने बताया कि सभी बाराते जूना खेड़ापति हनुमानजी मंदिर से रवाना होकर आखलिया चौराह होते हुए विवाह स्थल केशव परिसर में पहुंचेगी। इस दौरान विभिन्न स्थानों पर सर्व समाज के पदाधिकारियों की ओर से बारातियों का स्वागत किया जाएगा। समिति के नथमल पालीवाल ने बताया कि आयोजन को भव्य बनाने के लिए मातृशक्ति की समितियां बनाई गई है। जिसमें कुटिया प्रमुख, रंगोली प्रमुख, मंगल गीत प्रमुख सहित अन्य जिम्मेदारियां सौंपी गई है।

वर-वधू को संतजन देंगे आशीर्वाद
समिति के अध्यक्षा श्रीमती लीला मुंदड़ा ने बताया कि प्रात:10 बजे विवाह स्थल पर सभी बारातों का एक साथ भव्य स्वागत किया जाएगा। वहीं दोपहर 12.30 बजे से पणिग्रहण संस्कार शुरू होगा। उसके पश्चात प्रीतिभोज का आयोजन होगा। पणिग्रहण संस्कार के बाद वर-वधू का आशीर्वाद समारोह होगा। जिसमें समाज के प्रबुद्धजनों के साथ संतों का सानिध्य मिलेगा।

सामाजिक समरसता, सादगी, समर्पण का दृश्य देखने को मिलेगा-
समिति के मंत्री मोहनलाल करवा व सहमंत्री जितेंद्र गौड ने बताया कि सर्वजातीय सामूहिक विवाह समारोह में सामाजिक समरसता, सादगी, समर्पण का दृश्य देखने को मिलेगा। जहां आधुनिकता के चलते लोग लाखों रूपए खर्च करते है, वही इस विवाह समारोह से सादगी का एक उदाहरण देखने को मिलेगा। जिसमें सभी समाज के बंधु सादर आमंत्रित है। वहीं सेवा भारती की ओर से प्रत्येक वर-वधू को उपहार दिए जाएंगे। सर्वजातीय सामूहिक विवाह के गर्मी को देखते हुए संपूर्ण आयोजन स्थल पर बेहतरीन पांडाल बनाये गए। जिसमें कूलर सहित पंखों की व्यवस्थाएं होगी। वहीं आयोजन को देखते हुए हलवाईयों की अलग-अलग टीमे आज से तैयारियों में जुट गए है। इस मौके पर समिति के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button